<data:blog.pageName/> | <data:blog.title/> <data:blog.pageTitle/>

PG Full Form – पीजी का फुल फॉर्म क्या है? – जानिए पूरी जानकारी

PG Full Form | PG Full Form in Hindi | पीजी का फुल फॉर्म | PG Ka Full Form | pg full form in education | ug and pg full form | ug pg full form | pg full form in hostel

PG Full Form in Hindi :- पीजी का नाम तो आपने कई बार सुना होगा लेकिन क्या आप जानते हैं कि PG का फुल फॉर्म क्या होता है और अगर डिग्री है तो कैसे करें। पीजी एक श्रोत फॉर्म है जिसके कई फुल फॉर्म हो सकते हैं लेकिन इसका इस्तेमाल ज्यादातर शिक्षा के क्षेत्र में किया जाता है और हर छात्र का सपना होता है कि वह यूजी करने के बाद पीजी जरूर करे।

अगर आपको नहीं पता है कि पीजी क्या है और पीजी का फुल फॉर्म क्या होता है तो आपको चिंता करने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है, क्योंकि आज के इस लेख में हम पीजी से जुड़ी हर जानकारी हासिल करेंगे जिससे आपका सारा भ्रम दूर हो जाएगा किया जायेगा |

दोस्तों पीजी किसी भी विषय से किया जा सकता है, अगर आप साइंस, मेडिकल, आर्ट्स, कॉमर्स या किसी अन्य विषय के छात्र हैं तो आपको यूजी (अंडर ग्रेजुएट) के बाद पीजी (पोस्ट ग्रेजुएट) करना होगा। कर सकते हैं और यह किसी भी भाषा के गहन अध्ययन और किसी भी विषय में विशेषज्ञता हासिल करने के लिए किया जाता है। वैसे तो आजकल हॉस्टल जैसे दूसरे लेवल में भी पीजी का इस्तेमाल होता है, जिसका मतलब होता है पेइंग गेस्ट यानी कि आप किसी के घर में कुछ किराया देकर पेइंग गेस्ट के तौर पर रह सकते हैं।

PG Full Form

PG Full Form इन एजुकेशन हिंदी

PG Full Form

PG Full Form “स्नातकोत्तर” होता है और इसे हिंदी में स्नातकोत्तर कहा जाता है अर्थात यदि कोई छात्र कॉलेज में प्रवेश लेता है तो सबसे पहले वह स्नातक की डिग्री लेता है और उसके बाद किसी एक विषय में महारत हासिल करने के लिए उसे पीजी (पोस्ट) दिया जाता है। स्नातक) करना होगा। आजकल यह शब्द MBBS में ज्यादा चलन में है क्योंकि विशेषज्ञ बनने के लिए MBBS के छात्र को pg करना जरूरी होता है

पी-पोस्ट

जी स्नातक

पीजी का मतलब क्या होता है? यह बात आप अच्छे से समझ गए होंगे और ठीक से समझ भी गए होंगे कि पीजी का फुल फॉर्म क्या होता है, लेकिन अभी हम केवल पीजी कोर्स का ही फुल फॉर्म जान पाए हैं, आज पीजी का एक और फुल फॉर्म है, जो Pay होता है। इसे गेस्ट कहते हैं यानी पैसे देकर किसी के घर किराए पर रहना पेइंग गेस्ट होता है.

Relative Full From

पीजी फुल फॉर्म इन हिंदी (हॉस्टल)

PG Ka Full Form होता है पेइंग गेस्ट यानी छात्र पढ़ाई के लिए हॉस्टल में रहते हैं तो उनसे हर महीने कुछ किराया लिया जाता है जिसके चलते वह छात्र हॉस्टल में पेइंग गेस्ट होता है चाहे हॉस्टल हो या किसी का घर वह पेइंग गेस्ट है। कहा जाता है कि यहां आपको आवास, भोजन, कपड़े धोने, बिस्तर, पंखा आदि सभी सुविधाएं मिलती हैं। छात्रावास से सभी सुविधाएं मुफ्त हैं, बस आपसे कुछ निश्चित किराया लिया जाता है। पीजी हॉस्टल फुल फॉर्म

पी भुगतान

जी -अतिथि

आमतौर पर पीजी (पेइंग गेस्ट) का चलन छात्रों में अधिक होता है क्योंकि उन्हें पढ़ाई के लिए बाहर जाना पड़ता है, ऐसे में वे किसी भी घर में अकेले नहीं रह सकते हैं क्योंकि पढ़ाई का नुकसान होता है, इसलिए ज्यादातर कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में हॉस्टल या मेहमानों का भुगतान। सुविधा उपलब्ध रहती है पोस्ट ग्रेजुएट meaning in Hindi

स्नातकोत्तर Meaning in Hindi

स्नातकोत्तर एक ऐसे छात्र को संदर्भित करता है जिसने एक कॉलेज या विश्वविद्यालय में स्नातक डिग्री स्तर के पाठ्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है और अधिक उन्नत स्तर पर आगे के अध्ययन का पीछा कर रहा है। अर्थात ऐसा विद्यार्थी जो किसी विषय का गहन अध्ययन करना चाहता है, स्नातकोत्तर में प्रवेश लेता है। पोस्टग्रेजुएट कोर्स तीन तरह से किया जा सकता है जिसमें अगर आप किसी भी विषय में सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं और इसके अलावा आप डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं और मास्टर डिग्री ले सकते हैं।

पीजी (पीजी) – स्नातकोत्तर

अब तक हम जान चुके हैं कि पीजी का फुल फॉर्म क्या होता है और पेइंग गेस्ट क्या होता है, लेकिन अब हम यह भी जानेंगे कि आखिर आप किसमें पीजी कर सकते हैं और कुछ अन्य सवाल भी जैसे PG Ka Full Form क्या होता है, पीजी रूम फुल हिंदी में रूप

PG Full Form

Other Full Form in Hindi (अदर पीजी का फुल फॉर्म)

  • पीजी अस्पताल पूर्ण रूप- प्रेसीडेंसी जनरल अस्पताल
  • मेडिकल में पीजी का फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएट (पीजी)
  • पीजी हॉस्पिटल का फुल फॉर्म पेइंग गेस्ट होता है
  • फिल्म मेकिंग में पीजी
  • ड्राइंग में पीजी

किन-किन विषयों में पीजी कोर्स किया जा सकता है

लगभग सभी विषयों में पोस्ट ग्रेजुएट (पीजी) किया जा सकता है, आइए जानते हैं कि ऐसे कौन से विषय हैं जहां से पोस्ट ग्रेजुएट (पीजी) कोर्स किया जा सकता है।

MedicalHostel
HindiMBBS
Historypolitical science
mass communicationenglish
commercehindi
engineeringMBA
geographycomputers
Rural Developmenttravel tourism
Journalismpainting
public advertisementfinance
Artseconomics
Professional GeologistSanskrit
philosophyPsychology
humanitiesGeography
PhysicsBiology

पीजी का दूसरा फुल फॉर्म

Parental Guidance
Paying  guest
play ground
Past  Great
pressure gas
Professional Geologist
power generation
Procter & Gamble 
personal guard
Pretty Good
photo gallery
Product Guarantee
Plant Genetics
Point guard
pemphigoid gestationis
Papua New Guinea (TLD)
power grid 
professional golfers
postgraduate
play group
Portuguese

हैट पीजी कोर्स है

अब तक हमने PG के बारे में जाना की PG FULL FORM क्या होता है और इसका क्या मतलब होता है, जहाँ दो मुख्य अर्थ निकल रहे है जिसमे पहला शिक्षा से सम्बंधित है और दूसरा HOSTEL से सम्बंधित है यहाँ पर हम इससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करेंगे. शिक्षा। पीजी कोर्स एक मास्टर डिग्री है जो यूजी करने के बाद की जाती है। यह कोर्स 2 साल का होता है जो b.a, bsc करने के बाद किया जाता है और इसे भारत के लगभग हर कॉलेज और यूनिवर्सिटी से किया जा सकता है जिसके लिए अलग अलग सिलेक्शन प्रोसेस होता है

जैसे अगर कोई mbbs करने के बाद pg करना चाहता है तो एक सरकार द्वारा निर्धारित प्रवेश परीक्षा देनी होती है और शीट के आधार पर एक मेरिट सूची तैयार की जाती है, जिसके बाद पात्र छात्र को प्रवेश मिलता है और इसके अलावा अन्य विषयों में शीट और कॉलेज के अनुसार प्रवेश दिया जाता है।

यह कोर्स स्नातक कोर्स से ज्यादा महत्वपूर्ण है, क्योंकि ऐसा करने के लिए आपको दो साल और अलग से पढ़ना होता है और इसके लिए आप कोई एक मनपसंद विषय चुन सकते हैं और इसके अलावा एक छात्र दो विषयों में पीजी भी कर सकता है। है । इस कोर्स को करने के बाद उस विषय में एडवांस नॉलेज हासिल हो जाती है। और आप उस विषय के मास्टर कहलाते हैं, PG कोर्स जैसे MA, M.sc, M.ca, M.com, यह कोर्स PG कोर्स के अंतर्गत आता है।

पीजी कोर्स करने की योग्यता क्या है?

3 साल की स्नातक की डिग्री

जैसा कि हम जानते हैं कि यह कोर्स ग्रेजुएशन के बाद किया जाता है, जिससे इसे पोस्ट ग्रेजुएट या पोस्टग्रेजुएट कहा जाता है। इसके लिए सबसे पहले आपको किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से उस विषय में 3 साल की बैचलर डिग्री लेनी होगी, जिसमें आप पीजी करना चाहते हैं।

आयु सीमा

पोस्ट ग्रेजुएट के लिए कोई आयु सीमा नहीं रखी गई है, यह डिग्री कोई भी व्यक्ति किसी भी उम्र में ले सकता है।

लीड का फुल फॉर्म हिंदी में

Read more >>> IAS Full Form in Hindi और IAS ऑफिसर कैसे बने पूरी जानकारी

Leave a Comment